Friday, May 28, 2010

सांसद वाई. एस. जगनमोहन रेड्डी गिरफ्तार


आंध्रप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्नी वाई एस राजशेखर रेड्डी के पुत्न और कांग्रेस सांसद वाई. एस. जगनमोहन रेड्डी को आज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वारंगल जिले के महमूदाबाद में शुक्रवार को कडपा के एमपी वा ईएस जगमोहन रेड्डी द्वारा ओदारपू यात्रा शुरू करने के बाद हिंसा भड़क उठी।इस यात्रा के दौरान ही एक छात्र प्रफुल्ल राजू (20) की उस वक्त मौत हो गई जब कांग्रेसी नेता के सुरक्षा गार्ड ने पूर्व मंत्री कोंडा सुरेखा पर हमला करने वाली भीड़ को हटाने के लिए रेलवे स्टेशन के वेटिंग रूम में फायरिंग शुरू कर दी। प्रफुल्ल बहुजन स्टूडेंट फेडरेशन का सदस्य था और वह महमूदाबाद मंडल के वीएस लक्ष्मीपुरम का रहने वाला था। घटना के बाद पुलिस ने जगन को वंगापल्ली स्टेशन पर गिरफ्तार कर उन्हें हैदराबाद ले जाया गया। वारंगल के एसपी शाहनवाज कासिम ने बताया भारी हिंसा को देखते हुए यात्रा टाल दिया गया है। साथ ही शहर में भारी मात्रा में सुरक्षाकर्मियों की तैनाती के आदेश दे दिए हैं।कांग्रेस आलाकमान ने जताया था विरोधकांग्रेस आलाकमान के मना करने और तेलंगाना राष्ट्र समिति तथा तेलंगाना के अन्य कई संगठनों के विरोध के बावजूद आंध्रप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्नी वाई एस राजशेखर रेड्डी के पुत्न और कांग्रेस सांसद वाई एस जगनमोहन रेड्डी ने आज वारंगल में अपनी 'ओदारपू यात्ना' शुरु कर दी थी।दक्षिण मध्य रेलवे सूत्नों के अनुसार टीआरएस और उस्मानिया छात्न संघ की संयुक्त कार्रवाई कमेटी एवं कई अन्य संगठनों के श्री रेड्डी की इस यात्ना के भारी विरोध के कारण हैदराबाद-वारंगल रेल खंड पर रेल यातायात बाधित हो गया। प्रदर्शनकारियों ने कई जगह पर पटरियों से फिश प्लेटें निकाल दी हैं। इसके अलावा मार्ग पर पेड़ डाले जाने के कारण विभिन्न स्थानों पर ट्रेनों की आवाजाही रोक दी गई।सूत्नों ने बताया कि भाग्यनगर-एपी एक्सप्रेस, कृष्णा एक्सप्रेस, सतवहाना और त्निवेन्द्रम एक्सप्रेस सहित कई गाडि़यों को रोक दिया गया है जिसके कारण यात्नियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। सूत्नों के अनुसार प्रदर्शनकारियों द्वारा घानपुर, रघुनाथपल्ली और माहबूबाबाद, जंगाव एवं नालगोंडा, वारंगल खंड़ पर पटरियों से फिश प्लेटें हटाई गई जिसके कारण ट्रेनें रोक दी गई। कांग्रेस के पार्टी सूत्नों ने बताया कि यात्ना श्री जगनमोहन रेड्डी ने पार्टी नेताओं की सलाह पर ध्यान नहीं दिया। पार्टी हाई कमान ने भी इस यात्ना की अनुमति नहीं दी थी और इस बारे में पार्टी के आंध्र प्रदेश के प्रभारी केंद्रीय मंत्नी वीरप्पा मोइली श्री रेड्डी को सूचित भी कर दिया था। राज्य के मुख्यमंत्नी के रोसैया ने भी कल रात इस मुद्दे पर उच्च स्तरीय बैठक बुलाई और अपने मंत्नि मंडल के सदस्य एन रघुवीर रेड्डी तथा पी सबिता इंद्रा रेड्डी को श्री जगमोहन रेड्डी के आवास पर भेजकर उन्हें यात्ना नहीं निकालने के लिए सलाह देने को कहा लेकिन श्री रेड्डी यात्ना करने की अपनी जिद्द पर अडे़ रहे।तेलंगाना के राजनीतिक दलों और संगठनों तथा पार्टी हाईकमान के सभी प्रयासों को नजर अंदाज कर श्री जगनमोहन रेड्डी आज सुबह रेल से महबूबाबाद के लिए रवाना हुए थे। इसी बीच यह खबर आई कि श्री जगनमोहन रेड्डी जिस गाड़ी से सफर कर रहे हैं उसमें बम रखा हुआ है तो रेल की पूरी तरह तलाशी लेनी पड़ी इसके साथ ही तेलंगाना से किसी व्यक्ति ने फोन कर कहा कि जिस मार्ग से श्री जगनमोहन रेड्डी जा रहे हैं उस मार्ग पर रेल पटरी की फिश प्लेट हटा दी गई है। इस सूचना के बाद रेल लाइन की पूरी जांच पडताल की गई।श्री जगनमोहन रेड्डी की यात्ना के कारण हैदराबाद वारंगल के बीच रेल यातायात पूरी तरह प्रभावित हुआ है। रेल सूत्नों ने बताया कि इस क्षेत्न से गुजरने वाली करीब 20 एक्सप्रेस टेनों सहित कई रेल गाडि़यों को रोक दिया गया।

3 comments:

माधव said...

आन्ध्र प्रदेश के लोग पागल हो गए है क्या ?, अपनी देश का ही सर्वनास कर रहे है .

sanjukranti said...

girarftari ke atirikt chara hi kya tha...jagmohanji ke dimag ki upaj hai yatra....

Udan Tashtari said...

अभी समाचार में यही खबर देख रहा था.